मिशनइंद्रधनुष कार्यक्रम स्वास्थ्य विभाग के दूसरे चरण के तहत महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त तत्वावधान में 7 से 14 अक्टूबर तक चलेगा।

सोमवार को उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला टास्क फोर्स की बैठक उपायुक्त कार्यालय में हुई। बैठक में उप सिविल सर्जन (टीकाकरण) डाॅ.सुभाष ने विभाग की कार्य योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

बैठक में डीसी कहा कि हाई रिस्क, स्लम एरिया, ईंट भट्ठों निर्माण स्थलों पर मौजूद 0 से 2 साल तक के बच्चों के जीवन में बीमारी के रूप में कोई परेशानी हो, इसके लिए मिशन इंद्रधनुष के अंतर्गत बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभियान में जिन बच्चों को टीका लग चुका है उन्हें भी और जिन्हें नहीं लगा उन्हें भी शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि मिशन में झज्जर, बेरी, बहादुरगढ़ शहरी क्षेत्र स्थित स्लम एरिया, निर्माण स्थलों के साथ-साथ ईंट भट्ठों पर मौजूद श्रमिकों के बच्चों को शामिल किया जाएगा। मिशन का उद्देश्य 7 रंगों वाले हमारे जीवन में किसी भी रूप से बीमारी के रूप में काला रंग आए इसके लिए एक सकारात्मक मुहिम चलाई गई है।

जागरुकता अभियान चलाया

इसकार्यक्रम के लिए जागरुकता पर भी जोर दिया जाएगा। विद्यालयों में प्रार्थना सभा के दौरान विद्यार्थियों को जानकारी दें। साथ ही आशा-आंगनबाड़ी वर्करों के माध्यम से भी जागरुकता अभियान चलाया जाए। मिशन इंद्रधनुष में 0 से 2 साल तक के बच्चों सहित गर्भवती महिलाओं को बीसीजी, डीपीटी, टैटनेस, हैपेटाइटिस बी, एचआईवी, दीमागी बुखार खसरा(मिज़ल्स) के टीके लगाए जाएंगे। इस मौके पर जिला कार्यक्रम अधिकारी नीना खत्री, जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक अशोक शर्मा मौजूद रहे।

There are no comments yet.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked (*).

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>